क्रिकेट

भारतीय टीम में जगह नहीं मिलने के कारण संजू सैमसन ने सोशल मीडिया पर किया ऐसा पोस्ट

Advertisement

आईपीएल में विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी से अपना जलवा बिखेरने वाले केरल के क्रिकेटर संजू सैमसन आने वाली T20i जो न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली जाने वाली है उसमें चयन ना हो पाने के कारण ना खुश दिखाई दिए। उन्होंने अपनी नाराजगी सोशल मीडिया पर बिना किसी शब्दों को लिखें व्यक्त की है जिसे कई लोगों ने पहचान लिया। क्योंकि सोशल मीडिया पर ऐसी पोस्ट संजू सैमसन ने तब की जब बीते मंगलवार को आने वाली T20 सीरीज के लिए खेलने वाले 16 खिलाड़ियों के नामों का ऐलान किया गया।

Advertisement

इस बात से हुए संजू खफा

आने वाले 17 नवंबर से भारत और न्यूजीलैंड की T20i सीरीज की शुरुआत होने जा रही है। इस सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट टीम से खेलने वाले खिलाड़ियों के नाम का ऐलान बीते मंगलवार को ही बीसीसीआई के द्वारा कर दिया गया है। इस एलान में कुल 16 खिलाड़ियों के नाम की घोषणा की गई। परंतु इन 16 खिलाड़ियों में संजू सैमसंग का नाम नहीं था। संजू सैमसन टीम में जगह मिल नहीं मिल पाने के कारण ही शायद थोड़े खफा हो गए।

Advertisement

सोशल मीडिया पर की यह तस्वीरें शेयर

जिसके बाद संजू सैमसन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से आईपीएल में दिखाए गए अपने शानदार प्रदर्शन की कुछ विशेष तस्वीरें कोलाज स्वरूप में पोस्ट कर दी। संजू सैमसन के द्वारा की गई इस पोस्ट पर लोगों ने भी काफी प्रतिक्रिया यदि। हालांकि उन्होंने इस तस्वीर के ऊपर कोई कैप्शन नहीं लिखा परंतु उनके द्वारा की गई ऐसी पोस्ट और यह समय देखकर हर कोई समझ गया कि वह किस चीज से खफा है।

Advertisement

टीम में चयन ना होने का प्रमुख कारण

Advertisement

जानकारी के अनुसार संजू सैमसन को टीम में ना लेने का प्रमुख कारण चयनकर्ताओं के द्वारा बताया गया कि संजू सैमसंग फिटनेस में खरे नहीं उतर पाए हैं जिसके कारण उनका चयन नहीं हो पाया है। बता दे कि आने वाले 17 नवंबर के दिन भारत और न्यूजीलैंड की T20i सीरीज का पहला मैच जयपुर में खेला जाएगा जिसके बाद 19 नवंबर को दूसरा मैच रांची में और तीसरा मैच कोलकाता में 21 नवंबर को खेला जाने वाला है। T20 वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद अब भारतीय टीम के खिलाड़ियों को आने वाली सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए सभी हिदायत दे रहे हैं।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.