Categories: क्रिकेट

सबसे महंगे भारतीय सेलेब्रिटी बने विराट कोहली, नम्बर 2 से 10 तक सभी बॉलीवुड के लोग

किसी भी व्यक्ति की आज की तारीख में क्या वैल्यू है ये आँका जाता है ब्रांड्स के बीच में उसकी कीमत किस तरह से आंकी जा रही है? हर कोई इसे लेकर के काफी अधिक संवेदनशील होता है और अगर हम लोग बात करे इस बार की तो इस बार की लिस्ट भी बाहर आ गयी है जिसमे लगभग सारे लोग बॉलीवुड से है, मगर नम्बर 1 की बात करे तो उसमे इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान ने अपना जलवा बिखेर दिया है और वो भारत के सबसे मूल्यवान सेलेब्रिटी बनकर के उभर आये है.

लगातार चौथे साल टॉप पर विराट, 23.77 करोड़ आंकी गयी है कीमत
विराट कोहली लगातार चार वर्षो से भारत के सबसे अधिक मूल्यवान खिलाड़ी बनकर के उभरे है जो बहुत ही बड़ी बात है. उनकी कीमत 2377 करोड़ डॉलर की आंकी गयी है जो भारत की मुद्रा में अगर आप देखेंगे तो फिर ये कई अरबो रूपये की हो जाती है. आज विराट के इस लिस्ट में टॉप पर होने के पीछे कई फैक्टर है जैसे वो अनुष्का जैसी अभिनेत्री के पति है, फिर क्रिकेट जगत में वो टीम के कप्तान है और आईपीएल में भी उनका जलवा होने के साथ ही साथ सोशल मीडिया पर भी उनकी फैन फोलोइंग तगड़ी है.

Advertisement

दुसरे पर अक्षय और उसके बाद रणवीर और दीपिका का जलवा
ये लिस्ट सिर्फ विराट कोहली पर जाकर के ही खत्म नही हो जाती है, इसके बाद में भी कई नाम है जो लगातार बने रहे है. इस लिस्ट में दुसरे सबसे मूल्यवान सेलेब्रिटी अक्षय कुमार. इसी लिस्ट में तीसरे नम्बर पर रणवीर सिंह, चौथे नम्बर पर शाहरुख खान और पांचवे नम्बर पर दीपिका पादुकोण आ रही है. छठे स्थान की बात करे तो यहाँ पर आलिया भट्ट है. आलिया की उम्र अभी काफी ज्यादा कम है लेकिन इसके बावजूद वो काफी ऊँची रैंक हासिल कर चुकी है.

Advertisement

ये रैंक बताती है सेलेब्रिटी का पब्लिक पर प्रभाव
ये रैंकिंग हर साल डफ एंड फेल्प्स नाम की कम्पनी के द्वारा निकाली जाती है. ये रैंकिंग अपने आप में काफी अधिक महत्त्वपूर्ण है क्योंकि इसके द्वारा हमें बना बनाया एक सटीक आंकलन मालूम चल पाता है कि किस सेलेब्रिटी का इंडियन मार्किट पर कितना अधिक प्रभाव है और आज की डेट में देखे तो विराट आम लोगो की नजरो में सुपरस्टार बने हुए है और इस कारण से वो दर्जनों बड़े बड़े ब्रांड्स के साथ में जुड़कर के उनके विज्ञापन करते हुए नजर आ जाते है.

हालांकि विराट को लेकर के ये भी भविष्यवाणी लगी हुई है कि आने वाले कुछ आधे दशक में ही वो इस पोजीशन को खो देंगे और शायद हो सकता है टॉप फाइव से भी बाहर हो क्योंकि धीरे धीरे उम्र ढलने के साथ क्रिकेट का चार्म कम होता चला जाता है, धोनी उसके सबसे बड़े उदाहरण है.

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Yuvraj Solanki

This website uses cookies.