मनोरंजन

जानिए कौन कौन है नट्टू काका के परिवार में, पूरा परिवार कलाकारों से भरा हुआ

Advertisement

तारक मेहता का उल्टा चश्मा इस सीरियल में नट्टू काका के नाम का किरदार निभाने वाले घनश्याम नायक बीते 3 अक्टूबर को कैंसर जैसी महामारी से जूझते हुए निधन हो गया। नट्टू काका के जाने से तारक मेहता का उल्टा चश्मा इस क्षेत्र का पूरा परिवार काफी दुखी है। तारक मेहता का उल्टा चश्मा इस सीरियल में घनश्याम नायक ने नट्टू काका का बहुत ही उत्तम किरदार निभाया था जिसे दर्शकों के द्वारा काफी पसंद किया गया और उन्होंने लोगों का काफी मनोरंजन किया। बता दें कि तू काका यानी घनश्याम नायक ने अपने जीवन में 200 गुजराती फिल्मों में और लगभग 350 हिंदी धारावाहिकों में काम किया था। उन्होंने बचपन से ही एक्टिंग की दुनिया में कदम रख दिया था और वह छोटे-मोटे कार्यक्रमों में एक्टिंग किया करते थे।

Advertisement

बता दे की घनश्याम नायक अपने परिवार में अकेले ही कलाकार नहीं थे बल्कि पूरा उनका परिवार ही कलाकारों से भरा हुआ था। उनकी पीछे की तीन पीढ़ियां कला की दुनिया में सतत कार्यरत थी। घनश्याम नायक के पिता प्रभाकर नायक भी फिल्मों और नाटकों में अभिनय किया करते थे। वही बात की जाए घनश्याम नायक के दादा वाडीलाल नायक की तो वे भी कला के जगत से जुड़े हुए थे। घनश्याम नायक के दादा वाडीलाल नायक शास्त्रीय संगीत के बहुत बड़े ज्ञाता थे और वह धर्मपुर और वसंदा शाही घराने के शास्त्रीय संगीत में प्रमुख हुआ करते थे।

घनश्याम नायक का जन्म 12 जुलाई 1945 को मेहसाणा के धंधई गांव में हुआ था। घनश्याम नायक भवन कला के भी काफी अच्छे ज्ञाता थे उन्होंने पहली बार शोभासन गांव के रेवडिया माता मंदिर में भवाई नाटक में महिला का किरदार निभाया था। उसके बाद उन्होंने कई अन्य जगहों पर भवाई कला का प्रदर्शन किया। बाद में मुंबई में आकर उन्होंने रामलीला में भी बाल कलाकार के रूप में काम किया। उन्होंने 12 गुजराती फिल्मों में प्लेबैक भी दिया था।

Advertisement

घनश्याम नायक के दादा चाचा और पिता सभी लोग थिएटर कलाकार होने के बावजूद घनश्याम ने अपने आने वाली पीढ़ी को कला की इस दुनिया से दूर रखने का निर्णय किया। घनश्याम नायक के तीन बच्चे हैं जिनमें दो बेटियां और एक बेटे हैं। घनश्याम नायक का बेटा विकास नायक स्टॉक एक्सचेंज में मैनेजर का काम करता है। घनश्याम नायक की बड़ी बेटी भावना 49 वर्ष की है और वे एक ग्रुप भी नहीं है। वही घनश्याम नायक की छोटी बेटी तेजल 47 वर्ष की है और वह एक प्राइवेट स्कूल में काम करती है।

Advertisement

एक चैनल को दिए इंटरव्यू में घनश्याम नायक ने बताया कि वे नहीं चाहते कि उनके बच्चे एक्टिंग की इस दुनिया में कदम रखे इसलिए उन्होंने उनके बच्चों को इस दुनिया से दूर रखा। घनश्याम नायक का मानना है कि इस दुनिया में काफी संघर्ष है और वह नहीं चाहते कि उनके बच्चे उनकी तरह ही संघर्ष से गुजरे। नायक ने बताया था कि वह बहुत खुश है कि उनके बच्चे इस दुनिया से दूर दूसरे क्षेत्र में अपना करियर चुन लिए हैं। आज घनश्याम नायक हम सबके बीच नहीं है इस बात का दुख उनके हर चाहने वाले को है। घनश्याम नायक जैसे कलाकार फिल्म इंडस्ट्री को शायद ही कभी मिल पाएंगे।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

Recent Posts

This website uses cookies.