Categories: न्यूज़

हेलीकाप्टर क्रैश में चोटिल हुए ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अस्पताल में इलाज़ जारी

Advertisement

बुधवार के दिन सुबह तमिलनाडु के गुन्नौर में भारतीय सेना के हेलीकॉप्टर के साथ बहुत बड़ी दुर्घटना हो गई। इस हेलीकॉप्टर में भारत के पहले चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत अपनी पत्नी मधुलिका के साथ उपस्थित थे। हेलीकॉप्टर में और भी 11 लोग मौजूद थे। हादसा इतना भीषण था कि जनरल बिपिन रावत समेत 13 ऑफिसर वीरगति को प्राप्त हो गए। परंतु इनमें से केवल अफसर वरुण सिंह हादसे में बच गए।

Advertisement

हादसे के तुरंत बाद सभी शवों को सेनानी रेस्क्यू के द्वारा बाहर निकाल लिया जिनमें से एक ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह भी थे। वरुण सिंह को तुरंत अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जानकारी के अनुसार अस्पताल में उनका उपचार चल रहा है परंतु उनकी हालत भी काफी गंभीर बताई जा रही है। हालांकि जनरल बिपिन रावत का निधन भी अस्पताल में उपचार के दौरान ही हुआ।

बता दे की इसी वर्ष स्वतंत्रता दिवस के मौके पर ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह को शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। उन्होंने मुश्किल समय में अपने तेजस लड़ाकू विमान को बचाया था और इसी पराक्रम के चलते उन्हें शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की हालत बहुत ही नाजुक बताई जा रही है और इस वक्त हम पर अस्पताल में उपचार चल रहा है।

Advertisement

इस हादसे में जनरल बिपिन रावत की पत्नी मधुलिका का भी निधन हो गया। वहीं हादसे में सेना के अन्य 11 सीनियर अफसरों की मौत हो गई। हादसे के बाद देश के राष्ट्रपति ने भारी शोक व्यक्त किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर जनरल बिपिन रावत की मौत पर श्रद्धांजलि व्यक्त की। इतना बड़ा हादसा होने पर देश में राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई है।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.