Categories: न्यूज़

प्रतिबंध के बावजूद दिल्ली में पकड़े गए 470 किलो पटाखे, पुलिस ने किया मालिक को गिरफ्तार

Advertisement

बीते बुधवार को दिल्ली पुलिस के द्वारा उत्तर दिल्ली के सदर बाजार इलाके में एक गोदाम के अंदर छापेमारी करने पर पटाखों का भंडार पाया गया। यह सभी फटाके अवैध रूप से यहां पर बेचने के लिए ला कर रखे गए थे। छापा मारने के बाद पुलिस ने इतनी भारी मात्रा में पटाखों को जप्त कर लिया और गोदाम के मालिक होगी तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

जानकारी के अनुसार मोहम्मद रिहान नाम के 21 वर्षीय युवक ने यह सारे पटाखे उत्तर प्रदेश के मेरठ से दिल्ली में लाए थे। अवैध रूप से लाए गए यह पटाखे दिल्ली में प्रतिबंधित इलाकों में ज्यादा पैसे लेकर बेचने का मोहम्मद रिहान का इरादा था। उसने 12 हजार रुपए महीने से किराए पर एक गोदाम भी ले रखा था जिसमें करीब 472.4 किलो पटाखे छुपा कर रखे गए थे पूर्णविराम परंतु दिल्ली पुलिस की सजगता के कारण यह अवैध फटाके जप्त कर लिए गए हैं और गोदाम के मालिक को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

Advertisement

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली की प्रदूषण नियंत्रण समिति ने हाल ही में एक नोटिस जारी करते हुए दिल्ली में आने वाले 1 जनवरी 2022 तक सभी प्रकार के पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। दरअसल यह प्रतिबंध लगाने के पीछे की प्रमुख वजह वायु प्रदूषण और कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकना बताया गया है। जानकारी के अनुसार दीपावली जैसे बड़े उत्सव पर पटाखे फोड़ने के लिए लोग एकत्रित आने के कारण कोरोनावायरस का फैलाव बढ़ सकता है जिसके कारण यह प्रतिबंध लगाया गया है।

Advertisement

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति ने अपने नोटिस में यह जाहिर रूप से घोषणा की है कि आने वाले 1 जनवरी 2022 तक दिल्ली में कहीं पर भी पटाखों की बिक्री ना की जाए और ना ही पटाखे अवैध रूप से खरीदे जाएं। दरअसल पटाखों से निकलने वाले धुएं और वायु प्रदूषण के साथ-साथ कोरोनावायरस के बीच अंतर संबंध होने के कारण पटाखे फोड़ने से भी कोरोनावायरस का फैलाव हो सकता है और स्वसन संबंधी बीमारियां हो सकती है जिसके कारण यह प्रतिबंध लगाया गया है।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.