Categories: न्यूज़

देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए गज्जन सिंह, 4 महीने पहले हुई थी शादी

Advertisement

जम्मू कश्मीर में आए दिन भारतीय सेना के जवानों की पाकिस्तानी आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ होती रहती है। इस मुठभेड़ में कई बार भारतीय सेना के जांबाज जवान शहीद हो जाते हैं। परंतु भारतीय सेना के शूरवीर जवान भी आतंकवादियों को मौत के घाट उतार देते हैं। बीते सोमवार को भी जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों और पाकिस्तानी आतंकवादियों के बीच भारी मुठभेड़ हुई।

Advertisement

इस मुठभेड़ में भारतीय सेना के एक जेसीओ समेत 5 जवान शहीद हो गए। सभी शहीद जवान बाल बच्चे वाले और घर परिवार वाले थे। इनमें से एक गज्जन सिंह। शहीद गज्जन सिंह पंजाब के रूपनगर जिले के प्रचंदा गांव के रहने वाले थे। शहीद गज्जन सिंह बहादुरी के साथ आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद हुए। गज्जन सिंह के परिवार की बात की जाए तो उनके परिवार में चार भाइयों में वह सबसे छोटे भाई थे।

बीते 4 महीनों पहले ही गज्जन सिंह की शादी हरप्रीत कौर से हुई थी। शादी के केवल 4 महीनों बाद ही गज्जन सिंह का यू चले जाना उनके परिवार के लिए काफी दुखद है और असहनीय क्षति है। बता दें कि सज्जन सिंह 13 अक्टूबर को ही छुट्टियां मनाने 10 दिन के लिए अपने घर आने वाले थे परंतु दुर्भाग्य से एक दिन पहले ही वह देश के ऊपर कुर्बान हो गए।

Advertisement

गज्जन सिंह के शहीद होने की खबर सुनकर उनके परिवार समेत पूरे गांव में शोक का वातावरण है। गज्जन सिंह की माता जी को अभी तक उनके शहीदी की खबर नहीं दी गई है क्योंकि वह काफी बीमार रहती है। गज्जन सिंह के पिता चरण सिंह ने बताया कि उन्हें उनके बेटे की शहीदी पर गर्व है। उन्होंने बताया कि उनका बेटा शादी होने के बाद से ही बहुत खुश रहता था। उसके यूं अचानक चले जाने से उन्हें काफी दुख हुआ। वही गज्जन सिंह की पत्नी हरप्रीत कौर भी अपने पति के इंतजार में ही अब पूरा जीवन बिता देगी।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.