Categories: न्यूज़

2 महीने के बेटे के सिर से उठ गया पिता का साया, देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए मनदीप सिंह

Advertisement

जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना के जवानों और पाकिस्तान के आतंकवादियों के बीच आए दिन मुठभेड़ होती रहती है जिसमें भारतीय सेना के जवान देश की रक्षा करते हुए शहीद हो जाते हैं परंतु मां भारती के वीर सपूत उन आतंकवादियों के भी दांत खट्टे कर जाते हैं। बीते सोमवार को भी जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में भारतीय सेना के 5 जवान शहीद हो गए।

Advertisement

बीते सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में आतंकवादियों के साथ लोहा लेते हुए भारतीय सेना के एक जेसीओ समेत पांच जवान शहीद हो गए। दरअसल सेना के जवानों को मिली जानकारी के आधार पर वे पुंछ सेक्टर में आतंकवादियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाने के लिए पहुंचे। भारतीय सेना के जवान पूरी बहादुरी के साथ आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद हो गए।

शहीद हुए जवानों में नायब सूबेदार जसविंदर सिंह, नायक मनदीप सिंह, सिपाही गज्जन सिंह, सिपाही सरज सिंह और सिपाही वैशाख एच यह पांचों जवान शामिल थे। इनमें से तीन जवान पंजाब के रहने वाले थे। आतंकवादियों से देश की सुरक्षा करते हुए अपना बलिदान देने वाले इन जवानों को पूरा देश नम आंखों से श्रद्धांजलि दे रहा है।

Advertisement

शहीद हुए जवानों में पंजाब के गुरदासपुर के छठा गांव के रहने वाले मनदीप सिंह के घर में उनकी पत्नी मनदीप कौर और दो बेटे हैं। एक बीटा हाल ही में पैदा हुआ जिसकी उम्र करीब 2 महीने की है वहीँ दूसरा बीटा 2 साल का है। जब यह खबर शहीद मनदीप सिंह के परिवार में पहुंची तो उनकी पत्नी पूरी तरह से टूट गयी। उनका रो रो कर बुरा हाल हो गया। 

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.