Categories: न्यूज़

नीरज चोपड़ा का सपना हुआ पूरा, पहली बार माता-पिता को करवाया हवाई जहाज़ का सफर

Advertisement

टोक्यो ओलंपिक्स में गोल्ड मेडल जीतकर पूरे देश का नाम रोशन करने वाले गोल्डन बाय नीरज चोपड़ा हर तरफ सम्मान के पात्र बनते जा रहे हैं। टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जितने पर पूरे देश को नीरज चोपड़ा पर गर्व महसूस हो रहा है। जैसे हर व्यक्ति को सफलता मिलने के बाद सामान्य रूप से अपने माता पिता के लिए कुछ करने की उसकी इच्छा होती है वैसी ही इच्छा नीरज चोपड़ा की भी अपने माता-पिता के लिए कुछ करने की थी।

Advertisement

दरअसल नीरज चोपड़ा का यह हमेशा से सपना रहा है कि वह एक दिन अपने माता-पिता को हवाई जहाज का सफर करवाएंगे। नीरज चोपड़ा का वह सपना उन्होंने पूरा करके दिखाया। नीरज के माता-पिता को भी ऐसा होनहार पुत्र होने पर काफी गर्व महसूस हो रहा है। अपने माता-पिता को हवाई जहाज में बिठाकर सैर करवाने की तस्वीरें नीरज चोपड़ा ने बीते रविवार को अपने ट्विटर से शेयर की है।

बता दे कि नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक 2021 में जैवलिन थ्रो स्पर्धा में 87.58 मीटर तक जेवलिन थ्रो करके प्रथम क्रमांक और स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया था। टोक्यो ओलंपिक 2021 में स्वर्ण पदक जीतने के बाद नीरज चोपड़ा भारत के पहले ऐसे खिलाडी बन गए जिन्होंने एथलेटिक्स में स्वर्ण पदक जीता। इस वर्ष खेले गए ओलंपिक में भारत में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 7 पदक जीते।

Advertisement

टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने के बाद नीरज चोपड़ा का सम्मान विविध तरीकों से किया जा रहा है। हाल ही में नीरज चोपड़ा के नाम से पुणे में एक नवनिर्मित स्टेडियम का नामकरण किया गया। नीरज चोपड़ा के नाम से इस स्टेडियम का नामकरण करना न केवल नीरज चोपड़ा के लिए बल्कि पूरे भारत के लिए एक गर्व का विषय है। नीरज चोपड़ा को दिया जा रहा है इस प्रकार का सम्मान पूरे देश के खिलाड़ियों के लिए प्रेरक प्रसंग साबित हो सकता है।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.