Categories: न्यूज़

साधारण पुलिस कॉन्स्टेबल बने आईपीएस ऑफिसर

Advertisement

इंसान अगर मेहनत करे तो उसे सफलता पाने से कोई नहीं रोक सकता। जीवन में हर रोज किसी से कुछ ना कुछ सीखने को जरूर मिलता है इंसान हमेशा अपनी गलतियों और लोगों से सीखता रहता है। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसे दो शख्स की कहानी बताएंगे जो एक साधारण कॉन्स्टेबल और गरीब परिवार से होते हुए भी आईपीएस ऑफिसर बन गए।

विजय सिंह गुर्जर और फिरोज खान दोनों पुलिस कॉन्स्टेबल के पद पर दिल्ली में तैनात थे। फिरोज आलम और विजय साल 2010 में दिल्ली पुलिस कांस्टेबल पद के लिए भर्ती हुए थे। बात करें फिरोज के दोनों ने 12वीं की कक्षा के बाद पुलिस कांस्टेबल का एग्जाम दिया था जिसके बाद वह दिल्ली पुलिस में नियुक्त हो गए थे। फिरोज अपने गांव के दूसरे ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने यूपीएससी की यह परीक्षा पास की है। उन्होंने अपने कंट्रोल में बताया कि जब वह 12वीं पास के लिए थे तब उन्होंने पुलिस कांस्टेबल का एग्जाम दिया था जिसमें उनका सिलेक्शन हो गया था। लेकिन उन्होंने आगे की पढ़ाई जारी रखी और अपनी मेहनत से आज ही मुकाम पाया है।

Advertisement

क्या कहते हैं आईपीएस विजय गुर्जर

Advertisement

पुलिस कॉन्स्टेबल से आईपीएस बने विजय गुर्जर का जन्म साल 1987 में राजस्थान के झुंझुनू जिले के देवीपुरा गांव में हुआ था। विजय के पिता का नाम लक्ष्मण सिंह है विजय की पिटाई किसान रहे हैं और विजय काफी काफी गरीब परिवार से संबंध रखते हैं। विजय ने अपने गांव के ही सरकारी स्कूल से दसवीं की पढ़ाई पूरी की जिसके बाद उन्होंने दिल्ली पुलिस कांस्टेबल का एग्जाम दिया जिसमें वह भर्ती हो गए थे।

विजय ने बताया कि वह अक्सर अपने पिताजी के साथ खेत में भी काम किया करते थे और अपने पिताजी का खेतों में हाथ बटवा दिया करते थे। उन्होंने कहा कि पुलिस में भर्ती होने के बाद भी उन्होंने मेहनत करना नहीं छोड़ा और अपनी पढ़ाई जारी रखते हुए आज वह आईपीएस बन गए हैं।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Ravi Kumar

This website uses cookies.