न्यूज़

इस पुलिस सिपाही ने रोक दी बीच रास्ते में जज साहब की कार, देखिये फिर क्या हुआ

Advertisement

आम तौर पर जब भी हम लोग देश के सम्बन्ध में बात करते है तो चीजे काफी ज्यादा उलझी हुई टाइप की होती है जहाँ पर लोगो को वरीयता उनकी ताकत के हिसाब से मिलते हुए नजर आती है लेकिन आज और अभी हम जो बात कर रहे है वो और भी ज्यादा ख़ास है क्योंकि हाल ही में एक पुलिस कर्मी ने एक ऐसी इमानदारी का काम करके दिखाया है जिसका सोशल मीडिया पर बहुत ही ज्यादा गुणगान किया जा रहा है और लोग भी कह रहे है अगर सारी पुलिस ऐसी हो जाये तो फिर मजा ही आ जाए.

बिहार के सीवान कोर्ट का मामला, जज साहब की कार रोक दी
सुबह सुबह सीवान कोर्ट के प्रिंसिपल जज साहब अपने कोर्ट में गाडी में पहुंचे और जैसे ही वो हमेशा जाने वाले गेट की तरफ गये थे तो उन्होंने पाया कि गेट बंद था. इस पर उनके बॉडीगार्ड वहाँ पर गये और पुलिस कर्मी से गेट खोलने के लिए कहा तो उसने कहा कि जो कोर्ट के लिए नए नियम है उस हिसाब से ये गेट बंद रहने वाला है और इस कारण से बंद रखा जा रहा है.

Advertisement

इस पर उन्होंने उसे समझाया कि ये जज साहब है उनसे ही कोर्ट चलता है, मगर फिर भी पुलिस कर्मी नही माना और फिर जज साहब ने भी समझ लिया कि नियम तो आखिर नियम है सबको मानने होते है जिसके चलते हुए वो खुद कार से उतर गये और पैदल दुसरे रास्ते से अन्दर प्रवेश कर गये और फिर कोर्ट में जाकर के आगे अपना काम किया, यानी ये गेट खोला ही नही गया जो अपने आप में काफी बड़ा मामला है वो ये कहा जा सकता है.

Advertisement

अब अगर हम बात करे आम तौर पर की तो पुलिस डिपार्टमेंट को लकर के काफी ज्यादा केस चल रहे है बढ़ रहे है जिनमे उनकी नकारात्मक छवि भी होती है लेकिन इस तरह के किस्से मन में एक सम्मान को भी जगाने का कार्य कर देते है.

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Yuvraj Solanki

This website uses cookies.