Connect with us

Hi, what are you looking for?

न्यूज़

पुलिस का वेश धारण कर वसूली कर रहे थे तीन बदमाश, पहुँच गयी असली पुलिस

धोखाधड़ी और फर्जीवाड़े के कई अजीबो गरीब किस्से अक्सर हमे सुनाई देते है। एक बहुत ही सामान्य सी सोच यह है की धोखाधड़ी और फर्जीवाड़ा करने वालो के दिल में केवल पुलिस का ही खौफ होता है। लेकिन क्या होगा जब चोर उचक्के खुद ही पुलिस के भेस में लूटने के लिए निकल पड़े। जिहा दोस्तों यह कोई कल्पना नहीं बल्कि यह एक सत्य घटना घटित हुई है जिसे सुनकर आपके भी होश उड़ जाएंगे की किस प्रकार कुछ बदमाशो ने पुलिस का भेस धारण कर लोगो को ठगने का काम किया हैं।

AajTak

दरसल यह घटना राजस्थान के भरतपुर में घटित हुई है। घटना को अंजाम तिन आरोपियों ने मिलकर दिया है। तीनो आरोपी पुरी तैयारी के साथ एक व्यापारी को ठगने के लिये चले आए। इन बदमाशो के पास एक कार, दो हथकड़ियां, हथियार भी थे, इतना ही नहीं तीनो ने अपने नकली आईडी कार्ड भी बनवा कर रखे हुए थे ताकि उनपर कोई शक न कर पाए।

Advertisement

आरोपियों ने ठगने के लिए राजस्थान के भरतपुर के व्यपारी तुलसीराम जी को निशाना बनाया। तुलसीराम एक जिम चलाते है। दरसल तुलसिराम की जिम बहुत चलन पर है इस बात पर आरोपियों की कई दिनों से नजर थी। जिम संचालक तुलसीराम अपनी जिम में बैठे थे तभी तिन बदमाश एक गाड़ी में बैठकर आए। और जिम संचालक तुलसीराम को हड़काने का प्रयास करने लगे। तुलसीराम जी के पूछने पर तीनो ने बताया की वे जयपुर के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के पुलिस अफसर है। तुलसीराम जी भी पहले उनकी बातो में फस गए और वे जैसा कहे वैसा करने लगे।

जिम संचालक को अपनी बातो में फसाकर आरोपियों ने कहा की उन्हें खबर मिली है की इस जिम में ऑनलाइन साईट पर ठगी करने वाले मेंबर है। जिसके बाद जिम संचालक तुलसीराम उनकी बातो से डर गए इस बात को भाँपते हुए तीनो बदमाशो ने तुलसीराम जी से मामले को निपटाने के लिए 20 प्रतिशत कमीशन की बात करने लगे।

Advertisement

AajTak

जब आरोपियों ने तुलसीराम जी से कमीशन की बात कही तब कही तुलसीराम जी को उनपर शक हुआ और अपनी युक्ती का प्रयोग करते हुए तुलसीराम जी ने बड़ी होशियारी से स्थानीय पुलीस को खबर कर दी और एक तरफ तीनो बदमाशो को अपनी बातो में उलझाए रखा। सुचना मिलते ही थोड़ी देर बाद वहा की स्थानीय पुलीस मौके पर पहुच गई। पुलिस को देखते ही तीनो बदमाशो के होश उड़ गए। पुलीस ने तीनो को रंगे हाथ धर दबोचा। और पुलिस थाने ले गए।

पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए बदमाशो के नाम जमशेद, फारुख और शाहरुख़ बताया है। पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र बिश्नोई ने बताया है की तीनो आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। तीनो आरोपी अलवर जिल्हे के लक्ष्मणगढ़ गाव के रहिवासी है। आप सभी ऐसी धोखाधड़ी से सावधान रहिए और आपके साथ ऐसा होने पर तुरंत घटना की जानकारी पुलिस को दे।

Advertisement
Facebook Comments
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़ें

धर्म

हर कोई व्यक्ति अपने दैनिक जीवन में कोई न कोई कार्य करता रहता है. हर कोई अपने जीवन में कुछ हासिल कर लेना चाहता...

मनोरंजन

फिल्म जगत में वैसे तो हीरोज की ही चलती आयी है और ये बात हम लोग काफी ज्यादा अच्छे तरीके से जानते भी है...

मनोरंजन

अभी हाल ही में तांडव वेब सीरीज रिलीज हुई है जिसको लेकर के काफी ज्यादा विवाद हो रहे है. अगर आपको जानकारी न हो...