न्यूज़

खेती और मजदूरी करके घर चलाती थी महिला, आयकर विभाग ने मारा छापा तो निकली 100 करोड़ की मालकिन

राजस्थान के सीकर जिले के एक छोटे से गाँव की रहने वाली संजू देवी नाम की एक औरत रातोंरात करीब 100 करोड़ की मालकिन बन गई। खेती और मजदूरी करने वाली संजू देवी को खुद इस बात का अंदाज़ा नहीं था। दरअसल हुआ यूं कि आयकर विभाग के कुछ अधिकारी जयपुर-दिल्ली हाईवे पर स्थित जमीनों का जायजा ले रहे थे। जहा उन्हें एक ऐसी जमीन के बारे में पता चला जो संजू देवी नाम की एक औरत की बताई जा रही है। ये जमीन 64 बीघा में फैली हुई थी, जिसकी कीमत करीब 100 करोड़ रुपये है। गरीब परिवार इस औरत ने जब अपने नाम 100 करोड़ की जमीन की बात सुनी, तो वह और उसका परिवार सब लोग हक्का बक्का से रह गए। उन्हें ये समझ नहीं आ रहा था कि आखिर ये चमत्कार हुआ कैसे?

12 साल पहले पति ने लगवाया था एक दस्तावेज पर अंगूठा

जब आयकर विभाग के अधिकारीयों ने संजू देवी नाम की इस औरत से उस जमीन के बारे में पूछा तो उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे इस बारे में कुछ भी नहीं जानती है। अपने बयान में संजू देवी ने कहा कि करीब 12 साल पहले उनके पति की एक एक्सीडेंट में मौत हो गई थी। पति की मौत से कुछ महीनों पहले वे उन्हें सन 2006 में आमेर लेकर गए थे। वहा पर कुछ बड़े लोग बैठे हुए थे और उनके हाथों में कुछ दस्तावेज भी थे। उनके पति ने वो दस्तावेज लेकर संजू से उस पर अंगूठा लगाने को कह दिया। अपने पति की बात मानकर उन्होंने बिना कुछ पूछे उस दस्तावेजों पर अंगूठा लगा दिया।

खेतीबाड़ी और मजदूरी करके चलती है अपना घर

जब आयकर विभाग के अधिकारीयों ने संजू देवी से उनके काम के बारे में पूछा तो उन्होंने इस पर कहा कि वह दिनभर खेतीबाड़ी और मजदूरी करती है, जिससे कुछ रुपये आ जाते है. उससे वह अपने परिवार का गुजारा करते है। उनके दो बच्चे स्कूल चले जाते है और घर आकर घर के कुछ कामों में मदद कर लेते है।

आखिर कैसे बनी संजू देवी 100 करोड़ की मालकिन

संजू देवी ने अधिकारीयों को बताया कि उसके ससुर और पति दोनों ही छोटा-मोटा काम करते थे। वहा पर अक्सर वे बड़े लोगों से मिला करते थे। ये कहा जा सकता है कि वहा के किसी उद्द्योग पति ने इतनी बड़ी जमीन को कुछ शर्तो के साथ संजू देवी के नाम करवा दिया हो।

आयकर विभाग के अधिकारीयों ने अपनी जांच में बताया कि बड़े शहरों के कुछ उद्द्योगपति आदिवसियों की जमीन खरीदने के लिए आदिवासियों को कुछ लालच देकर जमीन खरीद लेते है। ऐसे में आदिवासियों की जमीन सिर्फ आदिवासी ही खरीद सकते है। संजू का परिवार आदिवासी परिवार है, इसीलिए उद्द्योगपतियों की बातों में आकर संजू के पति ने 100 करोड़ की इस जमीन को खरीदने के लिए दस्तावेजों पर अंगूठा लगवा दिया होगा। इस पूरे मामले की सच्चाई पता लगने के बाद आयकर विभाग ने इस जमीन को अपने कब्जे में ले लिया।

Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Yuvraj Solanki

This website uses cookies.