जरा हटके

भारत का ऐसा रेलवे स्टेशन जो है काफी अनोखा, नहीं है इस स्टेशन का कोई नाम

Advertisement

आमतौर पर हम देखते हैं कि जब हम रेलवे से प्रवास करते हैं तो हमें जिससे गंतव्य तक जाना होता है उस रेलवे स्टेशन का नाम बता कर हम टिकट खरीदते हैं और तभी रेलवे में बैठकर हम उस गंतव्य तक पहुंच पाते हैं। परंतु हम आपको आगे कैसे रेलवे स्टेशन के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका अभी तक कोई नामकरण ही नहीं किया गया है जिसके कारण उस गांव में पहुंचने के लिए लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है।

बता दे कि पश्चिम बंगाल के आद्रा डिवीजन में पढ़ने वाला एक ऐसा रेलवे स्टेशन है जिसका अभी तक नामकरण ही नहीं किया गया है। यह रेलवे स्टेशन बांकुरा से मैसग्राम के बीच चलने वाली रेलवे लाइन पर पड़ता है और यह रैना और रैनागढ़ के बिल्कुल बीच में है। इस रेलवे स्टेशन का नामकरण नहीं करने के पीछे एक बहुत ही अजीबोगरीब वजह बताई जाती है।

Advertisement

दरअसल यह रेलवे स्टेशन रैना और रैनागढ़ गांव के बीच में स्थित है। शुरुआती समय में इस रेलवे स्टेशन का नाम रैनागढ़ ही रखा गया था। परंतु रैना गांव के रहवासियों को यह नाम पसंद नहीं आया और वे अपने गांव का नाम रेलवे स्टेशन के साइन बोर्ड पर चाहते थे और इसी को लेकर दोनों गांव वालों के बीच विवाद हुआ। इस विवाद के बाद रेलवे प्रशासन ने वहां का साइन बोर्ड ही हटा दिया।

Advertisement

इस विवाद को सुलझाने के लिए रेलवे प्रशासन ने दोनों गांव के प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया परंतु चर्चा में से कोई भी निष्कर्ष निकलकर सामने नहीं आया। परंतु इस गांव में पहुंचने के लिए आज भी रेलवे की ओर से रैनागढ़ नाम से ही टिकट जारी की जाती है। हालांकि नाम नहीं होने के कारण इस स्टेशन पर पहुंचने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

Recent Posts

This website uses cookies.