Connect with us

Hi, what are you looking for?

जरा हटके

भारत में पहली ट्रेन कब और कहाँ चली थी, पढ़िये पूरी रेलवे विकास यात्रा

आज भारत में रेलवे बहुत ही ख़ास और महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है. फ्रेट कोरिडोर से लेकर पेसेंजर ट्रेन तक सभी अपनी अपनी और काफी ज्यादा महत्त्वपूर्ण भूमिका है और इसे हम काफी अच्छे तरीके से समझ भी रहे है और दुसरे शब्दों में कहे तो रेलवे आज देश की बैकबोन बन चुका है लेकिन ऐसा नही है कि ये आज ही आ गया और आज ही रेलवे ने चमत्कार करने शरू कर दिए, इसके पीछे कई दशको का एक्सपीरियंस और मेहनत है जो अंग्रेजो के टाइम से चली आ रही है तो चलिए आज हम लोग जरा रेलवे की इस जर्नी को थोडा सा शोर्ट में समझने की कोशिश करते है जो आपको भी काफी रोचक लगेगी.

कब चली थी भारत में पहली ट्रेन 

Advertisement

भारत में पहली ट्रेन

भारत में पहली रेल 16 अप्रेल 1853 में चलाई गयी थे और ये ट्रेन चली थी और ये ट्रेन बोरीबन्दर जिसे आज की तारीख में छत्रपति शिवाजी टर्मिनल के नाम से जाना जाता है वहां से लेकर के ठाने तक इस ट्रेन को चलाया गया था. इस ट्रेन में कुल 20 डिब्बे लगे हुए थे और 400 लोगो ने सवारी की थी और इसे उस वक्त के लोगो के लिए बहुत ही शानदार और अभूतपूर्व एहसास माना गया क्योंकि इससे पहले आम भारतीयों ने कभी भी रेलगाड़ी देखी ही नही थी.

Advertisement

अंग्रेजो ने किया था भारत में शुरूआती रेलवे नेटवर्क का विस्तार

Advertisement

भारत में ब्रिटिश लोगो ने ही शुरुआत में अधिकतर रेलवे नेटवर्क बिछाए जो भारत के कोनो कोनो तक गये. शिमला की उंचाई से लेकर दिल्ली जैसे महानगरो तक अंग्रेजो ने नेरोगेज रेलवे नेटवर्क तैयार किया और इसके पीछे उनका स्वार्थ था कि वो भारत में जो भी उप्तादन होता है उसे अपने फायदे के लिए विदेशो में निर्यात करके अच्छे से पैसा बना सके, हालांकि फिर आजादी के बाद ये सारा नेटवर्क हमारे हाथ में आ गया और इससे काफी ज्यादा फायदा भी हुआ.

कब चली भारत में तेज ब्रोडगेज लेवल की ट्रेन 

Advertisement

पहले भारत में सारी स्लो स्पीड की ट्रेने ही चलते हुए देखी गयी थी जो नेरो गेज पर चलती थी लेकिन समय के साथ में स्पीड बढाने की जरूरत महसूस हुई जिसके चलते हुए भारत में पहली ब्रॉडगेज सुपरफास्ट ट्रेन दिल्ली से हावड़ा के बीच में 1 मार्च 1969 के बीच में चलाई गयी और इसके बाद से देश में लगभग सारी ट्रेनों को नेरोगेज से बदलकर के ब्रॉडगेज ही बना दिया गया ताकि औसत स्पीड जो ट्रेनों की होती है वो बढ़ा सके.

Advertisement

लन्दन से लिया गया भारतीय रेलवे का कांसेप्ट

भारत में रेलवे का कांसेप्ट पूरी तरह से इंग्लैंड की राजधानी लन्दन से लिया गया है और जब शुरू शुरू में ट्रेने चलाई गयी थी तो इसके रखरखाव और बाकी सारी की जिम्मेदारी ग्रेट इंडियन रेलवे पेनिनसुला रेलवे के हाथो में दिया गया था जिसे उन्होंने काफी अच्छे तरीके से चलाया भी था.

Advertisement

जब ट्रेनों में पहली बार लगे टॉयलेट

Advertisement

एक रोचक फैक्ट ये भी है कि शरू शुरू में जब ट्रेने चली तो भारत की ट्रेनों में टॉयलेट ही नही थे जिसके चलते लोगो को ट्रेन के रूकने का इन्तजार करना पड़ता था लेकिन इस दिक्कत को भांपते हुए फिर ट्रेनों के अन्दर सन 1909 में पहले ट्रेन टॉयलेट लगाये थे और फिर आगे चलकर के इसे सारे के सारे ट्रेनों में लगा दिया गया. आज आप इसे हर जगह पर लगभग देखते ही होंगे और ये काफी ख़ास भी है.

 भारत की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन गतिमान एक्सप्रेस

Advertisement

कब चली थी भारत में पहली ट्रेन

इसके बाद भारतीय रेलवे ने और भी प्रगति की है और भारत की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन 1 अप्रेल 2018 में चलाई गयी जो कि औसतन 91 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चली और उसने अपनी पहली यात्रा हजरत निजामुद्दीन स्टेशन से लेकर के झांसी के बीच में की थी जो काफी ज्यादा अच्छा था लेकिन अब तो उससे भी ज्यादा बेहतर परफॉर्म करने वाली ट्रेने आ चुकी है.

Advertisement

हाई स्पीड ट्रेने तेजस एक्सप्रेस और वन्देभारत एक्सप्रेस

भारत में पहली ट्रेन कहाँ चली थी

Advertisement

आज की तारीख में भारत की सबसे बजट लग्जरी और हाई स्पीड ट्रेन वन्देभारत एक्सप्रेस है जो एक सेमी आटोमेटिक ट्रेन भी है और इसकी स्पीड हमने 130 किलोमीटर प्रति घंटा है, वैसे तेजस एक्सप्रेस की गति 160 किलोमीटर प्रति घंटा तक जा चुकी है जो भी एक लग्जरी ट्रेन है लेकिन वन्दे भारत को लेकर के माना जाता है कि इसमें और भी तेज जाने की क्षमता है अगर इसके ट्रैक को और ज्यादा बेहतर बना लिया जाता है.

कुल मिलाकर के देखे तो भारतीय रेलवे ने पिछली डेढ़ शताब्दी में काफी ज्यादा लम्बी दूरी तय की है और आज वो जो है वो काफी मेहनत और काफी लगन के साथ में बना है जो दुनिया का सबसे बड़ा नौकरी प्रोवाइडर भी कहा जा सकता है और आने वाले वक्त में उम्मीद है रेलवे और भी ज्यादा बेहतर होगा.

Advertisement
Facebook Comments
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़ें

धर्म

हर कोई व्यक्ति अपने दैनिक जीवन में कोई न कोई कार्य करता रहता है. हर कोई अपने जीवन में कुछ हासिल कर लेना चाहता...

मनोरंजन

फिल्म जगत में वैसे तो हीरोज की ही चलती आयी है और ये बात हम लोग काफी ज्यादा अच्छे तरीके से जानते भी है...

मनोरंजन

अभी हाल ही में तांडव वेब सीरीज रिलीज हुई है जिसको लेकर के काफी ज्यादा विवाद हो रहे है. अगर आपको जानकारी न हो...