जरा हटके

आखिर क्यों जींस के पेंट में बनाई जाती है दाई तरफ छोटी सी पॉकेट? जाने असली वजह

जींस के पेंट पहनने का चलन अमेरिका से शुरू हुआ था। यह पेंट विशेष रूप से मजदूरों के लिए बनाई जाती थी। बताया जाता है कि उस समय मजदूरों के कपड़े ज्यादा काम करने की वजह से गंदे हो जाते थे जिसके कारण उनकी सुविधा के लिए जींस पैंट का आविष्कार किया गया था। परंतु धीरे-धीरे जींस पैंट पहनने की फैशन आम जीवन में आ गई और लोग इसे फैशन के तौर पर इस्तेमाल करने लगे। परंतु इस पेंट में एक ऐसी खास बात है जिसका उपयोग बहुत ही विशेष चीज के लिए किया जाता था।

बता दें कि जींस के पेंट के दाई तरफ एक छोटा सा जेब बनाया हुआ होता है। आमतौर पर हम इस जेब का इस्तेमाल सिक्के रखने के लिए करते हैं। क्योंकि इस जेब का साइज इतना छोटा होता है कि इसमें सिक्के रखने के अलावा शायद ही और कोई चीज रखी जा सकती है। हर किसी को यही लगता है कि इस जेब को कंपनी के द्वारा शायद सिक्के रखने के लिए ही बनाया गया होगा। परंतु दोस्तों दरअसल जब जींस पैंट का आविष्कार हुआ था तब इस जेब को किसी दूसरी चीज रखने के लिए बनाया गया था।

इस काम के लिए होता था उस छोटे पॉकेट का उपयोग

बता दें कि जींस पैंट में डाई और बना हुआ यह छोटा सा जेब चैन वाली घड़ी रखने के लिए बनाया गया था। दरअसल जिस समय जींस पैंट का आविष्कार हुआ था उस समय लोगों के पास हाथ में पहनने वाली वॉच नहीं होती थी। उस समय एक छोटी सी चैन वाली घड़ी का ही लोग उपयोग करते थे। इसलिए उस घड़ी को रखने के लिए इस गेम को बनाया गया था। इस जेब में घड़ी बहुत ही सुरक्षित रहती थी और उसे किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं होता था।

इस कंपनी ने किया था जींस का आविष्कार

बता दे कि 18वीं सदी में ही जींस पैंट का आविष्कार किया गया था और उस समय ही लोग चैन वाली घड़ी का उपयोग किया करते थे। जींस पैंट को सबसे पहले लेवी स्ट्रॉस नाम की कंपनी ने बनाया था। आज उसी कंपनी को हम लेविस नाम से जानते हैं। बता दे कि लेविस एक ग्लोबल ब्रांड बन चुका है जो जींस पैंट बनाने में सबसे ज्यादा माहिर है और लेविस के जींस पैंट की ज्यादातर लोग पहनते हुए दिखाई देते हैं।

Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.