जरा हटके

AC खरीदते समय क्यों पूछा जाता है कितने टन का चाहिए, जबकि AC 1000-2000 किलो का नहीं होता

Advertisement

गर्मियों का सीजन लगते ही हर कोई अपने घर को ठंडा रखने के लिए विविध प्रकार के प्रयोग करता है। कुछ लोग घर में कूलर या पंखे का इस्तेमाल गर्मी के समय घर को ठंडा रखने के लिए करते हैं तो कुछ लोग घर में नया AC लगवाते हैं। अक्सर ऐसी खरीदने के लिए जब हम किसी दुकान में जाते हैं तो वहां पर हमसे सेलर एक सवाल पूछता है कि आपको कितने टन का AC चाहिए?

Advertisement

आमतौर पर हम देखते हैं टन (TON) का मतलब किसी वस्तु के वजन को मापने का एक मानक होता है। यह मानक एक विदेशी मानक है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जैसे हजार ग्राम यानी एक किलोग्राम होता है और 100 किलोग्राम यानी भारतीय मानक में 1 क्विंटल होता है। इसी प्रकार 900 क्विंटल यानी विदेशी मानक के अनुसार 1 टन होता है। अब आप सोच रहे होंगे कि AC का वजन 1 टन तो नहीं होता की खरीदते समय यह सवाल क्यों पूछा जाता है।

दरअसल AC खरीदने के लिए जो सवाल पूछा जाता है कि आपको कितने टन का एसी चाहिए? यहां पर टन का मतलब AC के वजन से ना होकर एसी के द्वारा कूलिंग किए जाने वाले एरिया से है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यदि आप 1 टन का AC खरीदते हो तो वह लगभग 100 स्क्वायर फुट एरिया को लगभग 1 टन बर्फ जितना कूलिंग कर सकता है।

Advertisement

यदि आप डेढ़ टन का AC खरीदते हो तो वह 100 से 200 स्क्वेयर फुट एरिया को डेढ़ टन बर्फ जितना कूलिंग प्रदान कर सकता है ऐसे ही यदि आपको 100 स्क्वायर फुट से अधिक एरिया को कुल करने के लिए AC चाहिए तो आप 3 टन का भी ऐसी खरीद सकते हो। तो यहां पर टन का मतलब AC के वजन से ना होकर उस एसी के द्वारा कूलिंग किए जाने वाले एरिया के वर्ग क्षेत्र से है। इसलिए आप जब भी AC खरीदने के लिए जाए तब इन बातों का ध्यान रखें कि आपको कितने बड़े कमरे के लिए AC चाहिए।

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.