Categories: धर्म

ये है भारत के टॉप 10 सबसे अमीर मंदिर, अकूत संपत्ति है इनके पास

जब भी हम किसी भी धार्मिक स्थान पर जाते है तो अपनी तरफ से कुछ न कुछ दान दक्षिणा तो जरुर देते है और लगभग देश भर के अधिकतर लोग देते है. अब आप खुद सोचिये कि जब सब लोग मंदिरों में कुछ न कुछ देते है और सदियों से देते आ रह है तो इनमे कितना अधिक धन जमा हो गया होगा? आज हम आपको यही बताने वाले है कि हमारे यहाँ के सबसे धनी और सबसे अधिक पैसे वाले मंदिर कौनसे है जिनके पास में अकूत संपत्ति है और ये किसी भी बड़े उद्योगपति से भी कई ज्यादा निकलती है.

पद्मनाभ स्वामी मंदिर 

Advertisement

ये अब तक का सबसे अमीर और सबसे शानदार मंदिर कहा जाता है जो कि तिरुवनंतपुरम शहर में है और यहाँ के शाही परिवार के द्वारा ही इस मंदिर की देखभाल भी की जाती है. ये मंदिर अपनी कलात्मकता के लिए विख्यात है और बात करे संपत्ति की तो इस मंदिर की संपत्ति कुल 1 लाख करोड़ रूपये करीब है.

Advertisement

तिरुपति बालाजी मंदिर 

Advertisement

तिरुपति बालाजी का मंदिर धर्म से जुड़े हुए लोगो के लिए आस्था का एक बहुत ही सुन्दर केंद्र है और अधिकतर लोग इस पर बात करते हुए हम लोगो को नजर आते है. इस मंदिर की बात करे तो ये आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित है और इसके पास में कुल संपत्ति 50 हजार करोड़ से भी ज्यादा की है और ये काफी बड़ी है.

श्री जगन्नाथ पुरी

Advertisement

इस मंदिर की बात करे तो ये उड़ीसा में स्थित है और पुरी शहर में ही है जो कि भगवान् कृष्ण को समर्पित है. इस मंदिर की कुल संपत्ति अरबो रूपये में है जो पांच हजार करोड़ से भी ज्यादा की हो सकती है हालांकि अभी इस पर कोई अधिक स्पष्टता नही है.

Advertisement

शिर्डी साईं बाबा 

Advertisement

शिर्डी में साईं बाबा का मंदिर बना हुआ है जहाँ पर सोना चांदी तो बिलकुल बरसता है और बात करे पैसे की तो यहाँ पर हर साल औसतन आजकल 300 करोड़ रूपये से भी अधिक का दान आता है और ये काफी बड़ा आंकड़ा है, अगर दान ही तीन सौ करोड़ का है तो मंदिर की संपत्ति कितनी ही होगी.

सिद्धि विनायक मंदिर 

Advertisement

सिद्धि विनायक मंदिर जो कि मुंबई शहर में है ये मंदिर भी अरबो रूपये की संपत्ति रखता है और क्योंकि मुंबई के बड़े बड़े उद्योगपतियों की भी इस मंदिर में श्रद्धा है तो यहाँ पर कई कई किलो सोना और चांदी का चढ़ावा भी अक्सर आता ही रहता है.

Advertisement

वैष्णो देवी मंदिर 

Advertisement

वैष्णो माता का मंदिर कटरा के नजदीक में स्थित है और आप भी बहुत ही अच्छे तरीके से इस बात को जानते होंगे क्योंकि कई सारे लोग है जिनकी आस्था वैष्णो माता में रहती है और अधिकतर लोग है जो ये सोचते है और कहते है कि हाँ हम लोग ये चाहते है कि वहां हम जाए, वहाँ हर वर्ष 500 करोड़ तक का दान आ जाता है.

सोमनाथ मंदिर 

Advertisement

सोमनाथ मंदिर गुजरात में स्थित है और इतिहास में भी इसका बहुत ही अधिक महत्त्व रहा है इस बात में कोई भी शक नही है, अगर आपको मालूम हो तो कई शासको ने इसको बचाने के लिए लड़ाई तक लड़ी है क्योंकि ये ज्योतिर्लिंगो में से एक माना गया है और काफी अधिक पूजनीय भी है, तो इस कारण से इस मंदिर की मान्यता खूब है, इस मंदिर में भी शिव भक्तो के द्वारा हर साल करोडो रूपये का चढ़ावा आता रहता है.

Advertisement

गुरुवायुर मंदिर 

Advertisement

अगले नम्बर पर इसी लिस्ट में है गुरुवायुर मंदिर  जो काफी ज्यादा ख़ास मंदिर है और इस मंदिर की अगर हम लोग बात करे तो ये मंदिर पांच हजार वर्ष से भी अधिक पुराना मना जाता है और इस मंदिर में भी हर वर्ष कई करोड रूपये का चढ़ावा आता है. ये मंदिर केरल में स्थित है और जो भी लोग विष्णु भगवान् के भक्त है वो नियमित तौर पर इस मंदिर में पूजा आदि करने के लिए जाते रहते है.

काशी विश्वनाथ मंदिर 

Advertisement

काशी विश्वनाथ मंदिर भी कई सदियों पुराना मंदिर है और इसमें भी उत्तर भारत के लोगो की बहुत ही विशेष आस्था है जिसके चलते यहाँ पर आपको मालूम हो तो काशी विश्वनाथ कोरिडोर का निर्माण भी किया जा रहा है. इस मंदिर में हर वर्ष कम से कम पचास करोड़ रूपये तक का चढ़ावा आ ही जाता है, ये मंदिर महादेव को समर्पित किया गया है.

Advertisement

मीनाक्षी अमन्न मंदिर 

Advertisement

ये मंदिर में माँ पार्वती की पूजा की जाती है जो प्रभु शिव की पत्नी है. अगर हम लोग बात करे मंदिर की सम्पति की तो ये अरबो रूपये में है और ये भी देश के सबसे अमीर मंदिरों की लिस्ट में शुमार किया जाता है, इस मंदिर को अगर आप लोग देखे तो कही न कही ये बहुत ही अधिक स्पेशल और कलात्मक रूप से ख़ास है, कई लोगो का मानना ये भी है कि ये मंदिर तीन हजार वर्ष से भी अधिक पुराना है और ये काफी बड़ा आंकड़ा है.

Advertisement
Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Yuvraj Solanki

This website uses cookies.