विशेष

गरीबों की मदद करता है यह मटका मैन, इंग्लैंड से नौकरी छोड़ भारत लौटा, आनंद महिंद्रा ने बताई कहानी

हम आए दिन खबरों में कुछ ऐसे लोगों के बारे में सुनते रहते हैं जो समाज जीवन में लोगों की सेवा करने के लिए अनेक प्रकार से योगदान देते रहते हैं। ऐसे ही एक सामाजिक योगदान की प्रतिमूर्ति की खबर दिल्ली से आई है। बताया जा रहा है कि दिल्ली में अलग नटराजन नाम के एक व्यक्ति है जो रोजाना दक्षिण दिल्ली के इलाके में 70 से 80 रास्ते पर रखे हुए मिट्टी के बर्तनों में साफ पानी भरते हैं ताकि लोगों की प्यास बुझाई जा सके।

बता दे इस व्यक्ति के बारे में महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने अपने ट्विटर हैंडलर से ट्वीट करते हुए जानकारी दी। आनंद महिंद्रा हमेशा ही ऐसे लोगों को प्रोत्साहन देते रहते हैं जो सामाजिक जीवन में निस्वार्थ रूप से लोगों की सेवा कर रहे हैं। आनंद महिंद्रा ने ट्वीट करके इस व्यक्ति की काफी सराहना की। बताया जाता है कि अलग नटराजन को दिल्ली में लोग मटका मैन के नाम से जानने लगे हैं।

आनंद महिंद्रा ने इस मटका मेन की तारीफ करते हुए कहा कि ‘एक सुपरहीरो जो पूरे मार्वल स्टेबल से ज्यादा शक्तिशाली है… मटका मैन। वो इंग्लैंड में एक उद्यमी और एक कैंसर विजेता थे। वो केवल गरीबों की सेवा करने के लिए भारत लौट आए हैं। बोलेरो को अपने इस नेक कार्य का हिस्सा बनाकर सम्मानित करने के लिए आपका धन्यवाद सर।’

बता दे कि अलग नटराजन प्रतिदिन सुबह जल्दी उठकर दक्षिण दिल्ली के इलाके में उनके द्वारा लगाए गए 70 से 80 मिट्टी के मटके में पीने का साफ पानी भरते हैं ताकि लोगों की प्यास बुझाई जा सके। अलग नटराजन ने शुरुआत में अपने घर के बाहर लोगों को पीने के लिए पानी देने के लिए एक मटका रखा था और वहीं से उनके दिमाग में है विचार आया कि पूरे दक्षिण दिल्ली में या उपक्रम चलाया जाए।

अलग नटराजन बीते कई सालों से यह सेवा भाभी उपक्रम कर रहे हैं। वे रोजाना बिना चुके सुबह जल्दी उठकर दक्षिण दिल्ली के सभी मटको में पानी भरने के लिए अपनी एसयूवी कार लेकर निकल पड़ते हैं। इसके साथ ही उन्होंने गरीब लोगों के लिए साइकिल में हवा भरवाने के लिए उसी इलाके में करीब 100 हवा भरने के पंप लगा रखे हैं। अलग नटराजन के द्वारा इस समर्पण के कार्यक्रम को हर कोई पसंद करता है और उसकी सराहना करता है।

Facebook Comments
Leave a Comment
Share
Published by
Harsh

This website uses cookies.